Search This Blog

Thursday, 22 April 2021

UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें

UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें

UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें

 समाचार पत्र UPSC सिविल सेवा की तैयारी का एक अभिन्न हिस्सा हैं क्योंकि यह देश और दुनिया भर में हाल के घटनाक्रमों और घटनाओं पर अद्यतन किए गए उम्मीदवारों को रखता है। हालांकि, समय बर्बाद न करने के लिए समाचार पत्रों को पढ़ने का एक विशिष्ट तरीका है। लक्ष्य यह है कि अखबार को इस तरह से पढ़ा जाए कि वह आपका ज्यादा समय लिए बिना आपकी तैयारी में मदद करता है। 

यूपीएससी की तैयारी के लिए दो सबसे अच्छे और अनुशंसित अखबार हैं - "द हिंदू" और "द इंडियन एक्सप्रेस"। अब, आइए चर्चा करें कि आईएएस की तैयारी के लिए अखबार को क्या और कैसे पढ़ना है ताकि इसकी पूरी क्षमता का लाभ उठाया जा सके।

IAS  की तैयारी अच्छे से करने के लिए समाचार पत्र को किस तरह से पढ़े

सबसे पहले और सबसे महत्वपूर्ण, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि आपको अखबार पढ़ने के लिए 60 से अधिक मिनट समर्पित नहीं करना चाहिए। अब, चलिए और चर्चा करते हैं कि प्रत्येक विषय के लिए क्या पढ़ें:

राष्ट्रीय समाचार

क्या पढ़ें:

  • सरकार द्वारा शुरू की गई राष्ट्रव्यापी योजनाएं / पहल।

  • राष्ट्रीय महत्व की घटना के निहितार्थ। उदाहरण के लिए, किसी भी प्राकृतिक / मानव निर्मित आपदा, दुर्घटनाओं, आदि को एक व्यापक आपदा प्रबंधन कार्य योजना द्वारा रोका जा सकता था।

  • इसरो या किसी वैज्ञानिक विकास से संबंधित समाचार

अंतरराष्ट्रीय समाचार

क्या पढ़ें: 

  • अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन और कार्यक्रम प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति ने भाग लिया।

  • संधियों और समझौतों पर हस्ताक्षर किए

  • UN, WHO, UNICEF, ASEAN, इत्यादि जैसे अंतर्राष्ट्रीय संगठनों द्वारा प्रकाशित रिपोर्ट पर WHO की रिपोर्ट, इन संगठनों द्वारा जारी किए गए विभिन्न सूचकांक।

  • अन्य देशों में प्रमुख राजनीतिक घटनाएं जैसे कि विद्रोह, राजनीतिक तख्तापलट आदि जैसे इजरायल का मुद्दा, रोहिंग्या संकट। 

अर्थव्यवस्था

क्या पढ़ें: 

  • SEBI, RBI, NITI Aayog, NASSCOM, ASSOCHAM, आदि द्वारा प्रेस विज्ञप्ति

  • वित्त मंत्रालय द्वारा प्रस्तुत सुधार और उपाय और उनके निहितार्थ। 

  • जैसे: जीएसटी सुधार, सरकार द्वारा शुरू किया गया राहत पैकेज इत्यादि। 

  • जीडीपी, सीपीआई, आईआईपी, आदि जैसे संकेतक

राजनीति

क्या पढ़ें: 

  • संसदीय बिल और अधिनियम। जैसे: नागरिकता संशोधन अधिनियम

  • सरकार द्वारा घोषित योजनाएं / सुधार आदि। 

  • मंत्रालयवार योजनाएं और रिपोर्ट

  • महत्वपूर्ण मामलों पर सर्वोच्च न्यायालय और उच्च न्यायालयों के फैसले।

  • संसदीय बहस

सामान्य ज्ञान

क्या पढ़ें: 

  • पर्यावरण और जैव विविधता से संबंधित मुद्दे।

  • संस्कृति और विरासत से जुड़ी खबरें जैसे राष्ट्रीय कार्यक्रमों और आयोजनों का संचालन। 

  • जीआई टैग, यूनेस्को विरासत स्थल के अलावा, आदि

  • लुप्तप्राय और विलुप्त प्रजातियों के बारे में समाचार

  • अन्य विज्ञान और प्रौद्योगिकी से संबंधित समाचार

यूपीएससी के लिए समाचार पत्र पढ़ते समय महत्वपूर्ण टिप्स

यहाँ सीएल विशेषज्ञों द्वारा कुछ सुझाव दिए गए हैं जो निश्चित रूप से अखबार को कुशलतापूर्वक पढ़ने में आपकी सहायता करेंगे:

  • सिलेबस की गहन समझ प्राप्त करें: सिलेबस को पूरी तरह से पढ़ने से आप प्रासंगिक समाचारों को चुन सकेंगे, जिससे आप बहुत समय बचा सकेंगे। केवल वही भाग पढ़ें जो UPSC परीक्षा के लिए प्रासंगिक हो। 

  • PYQ के माध्यम से नज़र: पिछले वर्ष के प्रश्न, विशेष रूप से वर्तमान मामलों से पूछे गए अनुभाग से आपको यह पता चल जाएगा कि किस प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं, इस प्रकार आप अधिक व्यवस्थित रूप से पढ़ पाएंगे। आपको अखबार में दी गई सभी जानकारी को अवशोषित करने की आवश्यकता नहीं है। बस प्रासंगिक है कि पढ़ने के लिए जाओ। 

  • दैनिक समाचार पत्र पढ़ने के लिए डिजिटल नोट्स बनाएं: इसके अलावा, अखबार से हस्तलिखित नोट्स बनाने में थोड़ा समय लग सकता है, इसलिए, आप अखबार की कतरनों को बचाने के लिए एवरनोट जैसे डिजिटल टूल का लाभ उठा सकते हैं। आप हमारे टेलीग्राम चैनल में भी प्रासंगिक समाचार पत्र की कतरन पा सकते हैं। त्वरित संदर्भ के लिए उन्हें अपने डिवाइस पर सहेजें।

  • त्वरित पुनरीक्षण के लिए मासिक संकलन पढ़ें: बवासीर के बाद बवासीर पढ़ने की तुलना में संशोधन अधिक महत्वपूर्ण है। इसलिए, आपने जो समाचार लिखे हैं, उनके साप्ताहिक और मासिक संशोधन के लिए जाएं। 

  • संपादकीय पढ़ने के लिए अतिरिक्त समय दें: यूपीएससी मेन्स के लिए उत्तर लेखन की प्रेरणा लेने के लिए संपादकीय एक अत्यंत महत्वपूर्ण स्रोत है। इसलिए, इसे वह समय दें जो इसके योग्य है, संपादकीय के लिए, आपको हस्तलिखित नोट्स बनाना चाहिए। और संबंधित जानकारी को बनाए रखने के लिए उन्हें नियमित रूप से संशोधित करते रहें।

You UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें in Hindi Short Notes Free Download Secret of clearing these tough UPSC prelims lies in the level of confidence you gain over the next few months.

And confidence can come only if you follow a plan consistently with all the seriousness to prepare UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें in Hindi.

Without consistency, it’s difficult to achieve the level of competency required to clear this exam. Staying consistent in following one single plan, even if it’s imperfect is the key to success. Here we are providing you the UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें in Hindi

It is believed that after acquiring historical knowledge by reading UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें in Hindi, one can make better decisions in life as history acquaints man with the past and contemporaries. He explained why history is the most important subject in the civil services exam, the other three being politics, geography and economics.

 UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें 

Indian-History-Notes-2020



 6. शक संवत की शुरुवात कब हुई थी?
A. 78 ई
B. 80 ई
C. 30 ई
D. 639 ई
Ans: A
 7. जिन्हें 1925 में केंद्रीय विधान सभा के स्पीकर के रूप में चुना गया था ?
A. एन सी केलकर
B. विठ्ठलभाई पटेल
C. मदन मोहन मालवीय
D. लाला लाजपत राय
Ans: B
 8. दिल्ली सल्तनत के किस सुल्तान को ‘दुनिया का खान’ कहा गया था?
A.. पृथ्वीराज
B. पोरस
C. सिकंदर
D. मुहम्मद बिन तुगलक
Ans: D
 9. इनमे से किस वर्ष अकबर ने तीर्थ-यात्रा समाप्त की थी?
A. 1540
B. 1550
C. 1563
D. 1572
Ans: C
 10. भारत के राजधानी दिल्ली में “हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन’ की स्थापना किस वर्ष हुई थी?
A. 1958
B. 1931
C. 1915
D. 1896
Ans: B
This article which is based on UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें in Hindi Short Notes Free Download, a part of our most viewed notes on Economics, which we think our readers not supposed to miss. Readers may download the each of the notes as PDF free of cost just click on Download button. Check our NOTES notes category from menu bar, if you willing to read the complete archives.




UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें 

यह जरूर देखे :

Anudeep-Durishetty-IAS-Topper-Complete-Notes-Pdf-Download
Free PDF Notes in Hindi Click Here
  
Please let us know, through your comments, which PDF Notes you want. We will try our level best to provide you that study material for your preparation not for commercial use. If  You want to share Your Study Material with Other Aspirants Please send Us at upscpdf2@gmail.com Please share this post with the needy aspirants.

UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें

All UPSCPDF Notes are available on this website for Educational purpose only. Not for commercial use.

Disclaimer
www.upscpdf.in does not own these UPSCPDF books, neither created nor scanned. We only provide you the links that are already available on Internet. If anyhow, it violates the law or has anyone issue with that. Then please contact us at upscpdf2@gmail.com For removal of links.

Spectrum Modern India Short Notes PDF Free Download For UPSC Click on Download Button

UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें     

Indian-History-Notes-2020


           Please share this post                        

   UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए समाचार पत्र कैसे पढ़ें in Hindi Part 1

Read this also:-Indian Geography PDF
Read this also:-GS SCORE ENVIRONMENT MCQ
इसे भी देखें:- आपदा प्रबंधन (भूगोल)
इसे भी देखें:- Indian and World Geography Most Important 

Vision IAS Complete Mind Map Infographics 





No comments:

Post a Comment