Thursday, May 19, 2022
HomeMotivational_Storyहाई स्कूल में आए थे बहुत कम नंबर बावजूद इसके प्राइमरी स्कूल...

हाई स्कूल में आए थे बहुत कम नंबर बावजूद इसके प्राइमरी स्कूल में टीचर बनी और आज IPS बनकर नाम रोशन कर रही है | टीचर से बनी IPS

हौसला है तो मंजिल है मंजिल है तो आप जीत ही जाएंगे…………………टीचर से बनी IPS!

आप कभी न कभी इसमें मंजिल तक पहुंच ही जाएंगे बस जरूरत है तो आप को चलते रहने की और अपने टारगेट को अपने सपने को सामने रखने की !  जितनी भी विपत्ति आए जितनी भी रास्ते के कांटे है उन को पार करते हुए आप सीधी चलते चले जाएंगे और एक दिन वह आएगा कि आपको अपनी मंजिल को पा लेंगे लेकिन उसके लिए आपको हौसला हिम्मत और जज्बा की जरूरत है ! यह दोनों चीजें आपको जिंदगी के किसी भी मोड़ पर कभी नहीं छोड़नी है

कभी हार नहीं मानना

कुछ लोग ऐसे होते हैं जो मंजिल तक पहुंचने से पहले ही हार मान लेते और टूट कर बिखर जाते हैं कुछ ऐसे भी होते हैं जो हार नहीं मानते और बार-बार प्रयास करते रहते और आखिर कार सफलता मिल ही जाती है !  सफलता मिलने के बाद जो आनंद होता है जो ख़ुशी का एहसास होता है उसको लफ्जों में बयां नहीं की जा सकता !

आज ऐसे ही कहानी हम आपके लिए लेकर आए हैं यह कहानी है गोरखपुर के रहने वाली ऐमन जमाल की जिन्होंने हिंदुस्तान की सबसे कठिन समझी जाने वाली संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा को पास किया, जिसे आप यूपीएससी के नाम से भी जानते हैं तथा दूसरे उम्मीदवारों के लिए रोल मॉडल बनकर सामने आई है!

दसवीं पास की तब उनके 63% नंबर थे

शुरू से एक एक साधारण छात्रा रही है  उन्होंने दसवीं कक्षा पास की थी तब उनके मात्र 63% नंबर ही आए थे इसके बावजूद भी इन्होंने 12वीं क्लास में अच्छा प्रदर्शन किया उन्होंने सिर्फ 69% नंबरों के साथ इंटरमीडिएट की परीक्षा को पास किया !  उन्होंने सन 2010 में अपनी ग्रेजुएशन की परीक्षा जंतु विज्ञान विषय से उत्तीर्ण की !

2016 में शुरू की यूपीएससी परीक्षा तैयारी

ऐमन जमाल ने इंटरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद जंतु विज्ञान विषय से बैचलर ऑफ साइंस अर्थात बीएससी की डिग्री सेंट एंड्रयूज कॉलेज से प्राप्त की जो उत्तर प्रदेश के  गोरखपुर में स्थित है अपना स्नातक करने के बाद उन्होंने अन्नामलाई यूनिवर्सिटी से Humen रिसोर्सेज में एक डिप्लोमा डिस्टेंस के साथ पूरा किया !

इसके बाद प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने के लिए देश की राजधानी दिल्ली में चली गई जहां उन्होंने जामिया मिलिया की रेजिडेंशियल कोचिंग अकैडमी में दाखिला लिया और वही छात्रावास में रहकर UPSC की तैयारी करने लगी !

पहले प्रयास में केंद्रीय श्रम विभाग में उनका चयन हुआ था

सन 2017 में पहले प्रयास में ऐमन जमाल का चयन श्रम विभाग में हुआ था इसके बाद साल 2018 में उन्होंने फिर ऑर्डिनेंस क्लोदिंग फैक्ट्री शाहजहांपुर में सहायक श्रम आयुक्त के पद पर कार्यभार संभाला ।

आईपीएस में आईएएस बनने तक का सफर

अमन जमाल ने सन 2018 में संघ लोक सेवा आयोग द्वारा भारतवर्ष में आयोजित कराई जाने वाली यूपीएससी की वार्षिक परीक्षा में सफलता हासिल की  यूपीएससी की परीक्षा में उनका ऑप्शनल विषय सामाजिक विज्ञान था  इंटरव्यू में भी उन्होंने अच्छा परफॉर्म किया और इंटरव्यू की फाइनल लिस्ट (सिलेक्टेड कैंडिडेट की लिस्ट) में उसके बाद उनको आईपीएस में चयन हो गया

 इंटरनेट को बनाया अपनी पढ़ाई का साधन

आज जहां पर कुछ लोग इंटरनेट पर खाली वक्त बेकार कर रहे हैं और फेसबुक इंस्टाग्राम युटुब पर अपना वक्त बिता रहे हैं

वही ऐमन जमाल ने इंटरनेट का इस्तेमाल अपनी पढ़ाई के लिए  किया ! कोई भी करंट अफेयर के टॉपिक से  नोट्स बनाने की विधि इंटरनेट ने काफी सहयोग किया  इंटरनेट से पढ़ाई करने से यह भी फायदा हुआ कि उनको कंटेंट अच्छा मिल गया और उन्होंने अपने पढ़ाई के नोट्स में बहुत सारी चीजें ऐड ऑन कर ली कई सारे तथ्य इंटरनेट के माध्यम से अपने नोट्स में जोड़ लें जिससे उन्हें काफी फायदा हुआ Mains के आंसर राइटिंग लिखने में !  इंटरनेट से पढ़ाई करना बहुत आसान हो जाता है लेकिन सबसे मुख्य बात यह है कि  आप किस तरह से इसका यूटिलाइज  करते हैं और इसको अपने पढ़ाई की काम में लेते हैं

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular